देवाशीष शर्मा व मयंक शर्मा

फ़िरोज़ाबाद :- दरअसल पूरा मामला सुहाग नगरी फिरोजाबाद के एक ऐसी शख्सियत से जुड़ा है जोकि व्यापार मंडल के साथ-साथ ब्राह्मण समाज के वी बड़े नेता हैं जी हां हम बात कर रहे हैं जनपद फिरोजाबाद के व्यापार मंडल एवं जिला ब्राह्मण महासभा के संरक्षक रविंद्र लाल तिवारी की । आपको बता दें रविन्द्र लाल तिवारी और इनके छोटे बेटे रजत तिवारी उर्फ डॉलर पर मारपीट, उत्पीड़न एवं बलात्कार जैसे आरोप लगे हैं और यह आरोप किसी औऱ ने नहीं बल्कि रविन्द्र लाल तिवारी के बड़े बेटे भरत तिवारी की पत्नी यशश्वी तिवारी (गुंजन) ने लगाएं है जिन्हें मुहँ खोलने या शिकायत करने पर परिवार सहित जान से मारने की धमकी भी दी गयी जिसकी वजह से पीड़िता खौफ़ के साये में जिंदगी जी रही है तथा न्याय के लिए कानून का दरवाज़ा खटखटा रही है क्योंकि इस बार लड़ाई एक निर्धन अबला और सफ़ेदपोश की है ।

मीडिया से बातचीत करते हुए रविंद्र लाल तिवारी की पुत्रवधू यशस्वी तिवारी उर्फ गुंजन ने कहा कि वैसे तो पहले भी मुझे दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था किंतु मैंने सब सह लिया लेकिन मेरी सास की मृत्यु के बाद मेरे ससुर रविंद्र लाल तिवारी एवं मेरे देवर रजत तिवारी उर्फ डॉलर ने मेरे साथ मारपीट की तथा मेरा शारीरिक शोषण किया जिसका मैंने विरोध किया तो मेरे लड़के को जान से मारने की धमकी मेरे देवर द्वारा दी गई जिसके बाद महीनों मेरे साथ दुराचार हुआ उसके बाद मैं अपने बेटे को लेकर अपने मायके चली गई तथा उसके बाद लगातार मुझे और मेरे परिवार को धमकी दी गई कि अगर कहीं भी मुंह खोला अगर शिकायत की तो तुझे परिवार सहित जान से मार देंगे क्योंकि रसूखदार पैसे वाले लोग हैं

दिनभर अधिकारियों के साथ उठना बैठना है व्यापार मंडल के नेता हैं वही जिला ब्राह्मण महासभा के मुख्य संरक्षक के तौर पर रवींद्र लाल तिवारी को जनपद में हर कोई जानता है तो ऐसे में कहीं ना कहीं यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या पीड़िता को न्याय मिलता है या नहीं? क्योंकि आज पीड़िता अपनी मां भाई और बच्चे के साथ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मिलने गई किंतु उनकी व्यस्तता के कारण उनसे मुलाकात किन्ही कारणों से नहीं हो पाई जिसके बाद पीड़िता ने महिला थाने में न्याय की गुहार लगाई है ।

बेटे को ब्याही बेटी संग देवर, ससुर ने किया जबरन दुष्कर्म

कहना कई महीनों तक होता रहा जानवरों जैसा व्यवहार, यौन शोषण और पिटाई

फिलहाल मौका देख भागी महिला ने बीते दिन लगाई एसएसपी कार्यालय पर न्याय की गुहार

बोली.ससुरालीजन दबंग किस्म के राजनीतिक पहुंच वाले हैं व्यक्ति ब्राह्मण महासभा एवं व्यापार मंडल का अध्यक्ष रविंद्र लाल तिवारी

बीते दिन एक पीड़िता ने एसएसपी कार्यालय पर न्याय की गुहार लगाते हुये शिकायती पत्र दिया जिसमें उसने आरोप लगाया है कि उसके देवर (डॉलर तिवारी) ने उसके बेटे को जान से मारने की धमकी देते हुये उसके साथ जबरन दुष्कर्म कियाए जब हिम्मत कर अपने पति और ससुर को अवगत कराया तो उन्होंने जानवरों जैसा बर्ताव कर उसे मारा पीटा बंद रखाए इतना ही नहीं आरोप है ससुर ने भी अपनी हवस का शिकार बनायाए उसके ससुर राजनीतक रसूख रखते हैं किसी तरह एक शादी में आने के दौरान वह वहां से भाग निकली, तब से न्याय की गुहार लगा रही है।

बताते चलें कि थाना उत्तर क्षेत्र जलेसर रोड लोहिया नगर गली नंबर तीन में दस वर्ष पूर्व हिन्दू रीति रिवाज से इस महिला का विवाह रवींद्रलाल तिवारी के पुत्र भरत तिवारी के साथ हुआ। आरोप है कि उक्त महिला गरीब घर की होने के कारण उसके ससुरालीजनों में ससुर और देवर खुश नहीं थेए उसके साथ दुव्र्यवहार करते थे। माता पिता की स्थिति ठीक न होने के कारण वह अपने परिजनों को नहीं बताती थी और उक्त अत्याचार सहन करती रही। कहना था हद तो तब हो गई 23 मई 2019 को उक्त महिला ने एक बेटे को जन्म दिया और 28 अप्रैल 2020 को उसकी सास का निधन हो गया। पीड़िता का देवर रजत तिवारी उर्फ डाॅलर अपने पिता की पूरी संपत्ति पर कब्जा करने के उददेश्य से उक्त महिला व उसके बेटे पर गलत निगाह रखे हुये था।

एक दिन खिलाने के बहाने उसने नवजात को गोद में ले लियाए आरोप है कि फिर उसकी गर्दन दबाते हुये सिर दीवार में मारने की बात कहीए जान बख्शने की शर्त पर देवर ने उसके साथ बलात्कार किया। बताने पर बेटे व उसे जान से मारने की धमकी दी। यह यौन उत्पीड़न कई दिनों तक चलता रहा। एक दिन बहुत साहस कर पति और ससुर को बताया तो आरोप है ससुरए पति और देवर ने मिलकर जानवरों जैसा बर्ताव किया, बहुत पिटाई की कई दिनों तक बंद रखा। आरोप है कि सब कुछ सहन कर जब तक वह खुद को संभाल पाती तभी उसके ससुर ने भी उसके साथ जबरदस्ती बलात्कार किया और मारपीट की। 25 नवम्बर 2020 को उसकी ससुराल मथुरा में शादी थी वह ससुरालीजनों संग शामिल हुई तभी वह अपने व बेटे की जीवन रक्षा के उद्देश्य से भाग गई।

आरोप है कि उसके ससुरालीजन अत्यत दबंग किस्म के राजनैतिक पहुंच रखने वाले व्यक्ति हैं जिसकी पुलिस प्रशासन में भी पहुंच है। जिसकी वजह से उसे अपनी व अपने बेटे की जान का खतरा हमेशा बना रहता है। एसएसपी कार्यालय पर बीते दिन गुहार लगाते हुये कहा है कि उसकी रिपोर्ट दर्ज कर दोषियों के विरूद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही करते हुये उसके जान माल की सुरक्षा प्रदान करायी जाये।

error: Content is protected !!