September 29, 2021

आकाशीय बिजली गिरने से 9 मवेशियों की मौत,

बलरामपुर-: जिले के कुसमी विकास खण्ड के अंतर्गत ग्राम पंचायत कंचनटोली में शुक्रवार दोपहर बाद आकाशीय बिजली गिरने से 9 मवेशियों की मौत हो गई।मवेशियों को पशुपालक खेतों में चरा रहे थें तभी अचानक बादल गरजने के साथ आकाशीय बिजली गिरी जिसके चपेट में आकर मवेशीयों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं बीते दिनों गुरुवार को झारखंड राज्य की सीमा से जुड़े ग्राम कोरन्धा के फुतुलटोली में भी आकाशीय बिजली की चपेट में आकर लैला व दफे की 22 मवेशियों की मौत हो गई थी। कुल 31 मवेशियों की मौत से गॉंव के ग्रामीण दुखी हैं।


       घटना की सूचना जैसे ही आसपास के गांवों सहित कुसमी मुख्यालय में पहुंची थोड़ी ही देर में घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जमा हो गई।बताया जा रहा हैं कि उक्त मवेशी कंचन टोली निवासी सुखदेव तथा प्रभु राम का हैं। शुक्रवार को अचानक बरसात के दौरान आंधी आई तभी आसमान में बादल की गड़गड़ाहट हुई और आकाशीय बिजली गिरने से मवेशियों की मौत हो गई हैं।

      इस घटना के बाद मौके पर गांव वालों की काफी भीड़ एकत्रित हो गई। इस प्राकतिक आपदा से उक्त मवेशियों के मालिकों को काफी नुकसान हो गया है।जिनके घर का जीविका मवेशी के पालन पोषण करके ही चल रहा था।समाचार लिखे जाने तक देर शाम तक प्रशासन से कोई अमला घटना स्थल नहीं पहुच सका था जिससे पशु पालक को हुई छति का आंकलन हो पाता।वहीं ग्राम फुतुलटोली में 22 मवेशियों की मौत के मामलें में हितग्राहियों को राहत राशि दिलाने प्रशासनिक कार्यवाही पूर्ण कर ली गई हैं।
      इस संदर्भ में तहसीलदार कुसमी उमा सिंह ने बताया नव मवेशी गाज की चपेट में आ गये हैं अभी पटवारी हड़ताल में हैं जिस कारण किसी को नही भेजी पाए हैं। तहसीलदार कुसमी के अनुसार एक हितग्राही को तीन मवेशियों का ही मुआवजा हासिल हो पायेगा भले ही अधिक पशु क्यो न हो। मुआवजा मवेशियों के आंकलन के ही अनुसार मिलेगा।
     पशु चिकित्सा अधिकारी कुसमी डॉ अभिषेक पाण्डेय ने कहा थाना में इस संदर्भ में आवेदन के बाद मौके पर जाकर पीएम कर पोस्टमार्टम रिपोर्ट सौंप दिया जाएगा।

error: Content is protected !!