October 23, 2021

सरकारी नौकरी का रौब : काट दिया पडोसी का ५० साल पुराना आम का पेड़

मुंबई : सूर्य रवाने

रत्नागिरी : सरकारी ऑफिस में काम करने वाला व्यक्ति कब अपने पद का दुरूपयोग करे यह कह नहीं सकते।
ऐसा ही एक मामला सामने आया है,,,

रत्नागिरी अम्बेषेत गांव के निवासी विजय सावंत हालही में कुछ दिनों के लिए पुरे परिवार के साथ मुंबई आये हुए है, इसी का फायदा उठाते हुए उसी गाँव में पास के कंपाउंड में रहने वाले उनके पडोसी रोशन उदय कांबले जो की वहा के कलेक्टर ऑफिस में कार्यरत है, अपने पद का दुरूपयोग करते हुए विजय सावंत और उनके परिवार के अनुपस्थिति में बिना उनकी इजाजत उनके के कंपाउंड में प्रवेश कर वहा पर मौजूद एक ५० वर्ष पुराने आम के पेड़ के एक हिस्से को काट दिया और पेड़ को काफी क्षति पहुचाई।
पेड़ को काटते समय जब गांव के कुछ लोगो ने इसका विरोध किया तो रोशन ने उन्हें यह कहते हुए चुप कर दिया की मेरी इस पेड़ के मालिक विजय सावंत से बात हो गई है।

जैसे ही इस बात कि खबर मुंबई में उपस्थित विजय सावंत को लगी तो उन्हों ने तुरंत अपने वकील द्वारा २६ जुलाई को रोशन उदय कांबले को नोटिस भेजा और साथ ही वहा के ग्रामपंचयत, वन विभाग अधिकारी और पुलिस स्टेशन को भी नोटिस की कॉपी भेज कर सुचना दी और उचित कारवाई करने की माँगा की है। लेकिन ताजुब की बात तो यह है की २ महीने बीत जाने के बाद भी किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं हुई है और ना ही किसी विभाग के तरफ से कोई जवाब आया है।

पल्स २४ न्यूज़ से बात करते हुए विजय सावंत बताया की कोंकण वासिओ के लिए आम के पेड़ का बड़ा महत्व है, साथ ही उन्हों ने बताया की पेड़ के जितने हिस्से को काट दिया गया है उतने हिस्से से उन्हें साल में लगभग १० हजार रुपये का उत्पन होता था। जो अब पूरी तरह बंद हो जायेगा।

विजय सावंत ने आरोप लगाया है की रोशन कांबले ने अपने पद का दुरूपयोग करते हुए बिना उनकी इजाजत और उनके परिवार के अनुपस्थति में उनके कंपाउंड में घुसकर अपनी मर्जी से पेड़ को काट कर गुनाह किया है जिसके लिए उन्हें सजा मिलनी चाहिए।
अगर उन्हें ग्रामपंचायत, वन विभाग और वहा के अधिकारिओ से जवाब नहीं मिलता है तो वे सभी के खिलाफ न्यालय का दरवाज़ा खटखटाएंगे।

error: Content is protected !!