May 22, 2022

ब्रेकिंग उलिया बांध में आरक्षक की डूबने से मौत, 4 दिन बाद मिली शव

रिपोर्टर@अनिल खलखो राजपुर

बलरामपुर। बलरामपुर जिले के पस्ता थाना अंतर्गत उलिया बांध के पनडु्बी चिड़िया मारने गए आरक्षक की पानी में डूबने से मौत हो गई।आरक्षक की लाश 4 दिन बाद गोताखोरों ने 22 फीट नीचे पानी से निकाला।
पस्ता थाना प्रभारी ने बताया कि ग्राम पंचायत जिगड़ी के देवरीडांड़ निवासी 36 वर्षीय प्रदीप बड़ा पिता धर्मसाय बड़ा आरक्षक के पद पर बलरामपुर जिले के बलंगी थाना में पदस्थ था। 13 जनवरी को छुट्टी लेकर अपने घर देवरीडांड़ आया हुआ था। उसी दिन अपने दोस्त मिथुन उरांव, पतरस उरांव व सिमोन उरांव के साथ जिगड़ी के उलिया बांध में पनडु्बी चिड़िया मारने के लिए गया था। बांध के अंदर आरक्षक प्रदीप बड़ा और पतरस उरांव दोनों पानी के बीच में चले गए पानी का बहाव अधिक होने के कारण आरक्षक प्रदीप बड़ा पानी में डूब गया।

काफी छानबीन करने के बाद कहीं पता नहीं चलने पर ग्रामीणों ने पस्ता थाना पहुंच थाना प्रभारी संपत पोटाई को जानकारी दी। मौके पर बलरामपुर, तातापानी व अंबिकापुर के करीब 20 गोताखोर पहुंचकर 4 दिनों से पानी में आरक्षक की तलाश की जा रही थी।सोमवार को करीब 3 बजे पानी के करीब 22 फीट नीचे आरक्षक का लाश मिली पुलिस ने आरक्षक की लाश को पानी से बाहर निलवाकर पंचनामा पश्चात लाश को पोस्टमार्टम के लिए बलरामपुर भेजा। देर शाम हो जाने के कारण पोस्टमार्टम नही हो पाया। मौके पर थाना प्रभारी संपत पोटाई, सहायक उप निरीक्षक रमेश एक्का सहित पुलिसकर्मी उपस्थित थे।

You may have missed

error: Content is protected !!